May 20, 2024

weather

142.15555555556 °C

RashtriyaEkta - 12-05-2024

मरने के 20 मिनट बाद फिर से जिंदा हो गया शख्स, बताया कैसी थी मौत के बाद की दुनिया, जानिए मरने के बाद इंसान कहां जाता है और क्या करता है...

मौत के बाद क्या होता है, ये अब तक एक रहस्य ही बना हुआ है, क्योंकि मरने वाले इंसान कभी वापस लौटकर नहीं आते. ऐसे में जाहिर है किसी को भी नहीं पता होगा कि मौत के बाद की दुनिया कैसी होती है, मरने के बाद इंसान कहां जाता है, क्या करता है. हालांकि दुनिया में कुछ लोग ऐसे हैं, जो ये दावा करते हैं कि वो मौत के बाद की दुनिया देख चुके हैं. ऐसे ही एक शख्स हैं स्कॉट ड्रमंड. स्कॉट ने दावा किया है कि उन्हें डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था, लेकिन 20 मिनट बाद ही वह वापस जिंदा हो उठे थे. उन्होंने बताया है कि मौत के बाद उन्होंने क्या देखा और कैसे उस घटना ने उनका जीवन हमेशा के लिए बदल दिया.

लैडबाइबल की रिपोर्ट के मुताबिक, स्कॉट की उम्र अभी 60 साल के करीब है, लेकिन उन्होंने बताया कि जब वह 28 साल के थे, तब एक स्कीइंग दुर्घटना में उनका अंगूठा कट गया था, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनका ऑपरेशन होना था. स्कॉट ने बताया कि ऑपरेटिंग रूम की नर्सों में से एक ने पहले कभी सर्जिकल टर्निकेट नहीं किया था. टर्निकेट एक उपकरण होता है, जिसका उपयोग खून के प्रवाह को रोकने के लिए किसी अंग पर दबाव डालने के लिए किया जाता है. अब चूंकि उस नर्स ने पहले कभी सर्जिकल टर्निकेट का इस्तेमाल नहीं किया था, ऐसे में उससे एक गलती हो गई और थोड़े समय के लिए स्कॉट की मौत हो गई.

स्कॉट ने उस भयानक घटना को याद करते हुए बताया कि नर्स चिल्ला रही थी और कह रही थी कि मैंने उसे मार डाला. इसके बाद वह कमरे से भाग गई. इसके बाद स्कॉट की बांह में एक अजीब सी सनसनी पैदा हुआ, जो बाद में उनके हार्ट तक पहुंच गई और अचानक ही उन्हें महसूस हुआ कि वह अपने शरीर के ऊपर तैर रहे हैं. असल में स्कॉट की आत्मा उनके शरीर से बाहर निकल गई थी. ‘प्रायोरिटीज योर लाइफ’ को दिए एक इंटरव्यू में स्कॉट ने बताया कि ‘मैंने अपने अंगूठे में लगाए गए हर टांके को देखा’. उन्हें महसूस हुआ कि उनके बगल में कोई खड़ा है, जिसे अब वह भगवान मानते हैं.

स्कॉट ने बताया कि कैसे बिना चेहरे वाले उस व्यक्ति ने उनसे कहा कि अब जाने का समय हो गया है और फिर उन्हें एक खूबसूरत फूलों से भरे मैदान में पहुंचाया. स्कॉट ने आगे बताया कि उस व्यक्ति से वह मुंह से बोलकर बात नहीं कर रहे थे बल्कि मन के माध्यम से बात कर रहे थे. उस व्यक्ति ने उन्हें ये सख्त निर्देश दिया था वो कभी पीछे मुड़कर न देखें. स्कॉट के लिए एक सबसे हैरान करने वाली बात ये थी कि वो व्यक्ति भले ही उनके बगल में खड़ा था और साथ-साथ चल रहा था, लेकिन इसके बावजूद वह उसका चेहरा नहीं देख सके.

स्कॉट के मुताबिक, मरने के बाद वह जिस फूलों के मैदान में पहुंचे थे, वहां सुंदर जंगली फूल थे, जो उनकी कमर तक आ रहे थे और साथ ही ऊंचे-ऊंचे पेड़ थे, जो बहुत ही अजीब दिख रहे थे. वो धरती पर दिखने वाले पेड़ों की तरह नहीं थे. हालांकि थोड़ी ही देर बाद उन्हें अहसास हुआ कि जो व्यक्ति उन्हें उस मैदान में ले गया था, वो अब वहां नहीं है. इसके बाद वह सीधे बादलों के पास पहुंच गए और बादलों के अंदर से एक हाथ निकला और आवाज आई कि ‘अभी तुम्हारा समय नहीं आया है. तुम्हें अभी और भी बहुत कुछ करना है’. फिर जैसे ही वो हाथ बादलों में वापस गया, इधर अस्पताल में पड़े स्कॉट के शरीर में फिर से प्राण आ गए और वो जिंदा हो गए.

और पढ़ेंकम दिखाएँ
//

© Rashtiya Ekta! Design & Developed by CodersVision