June 12, 2024

weather

144.29444444444 °C

RashtriyaEkta - 08-06-2024

एशिया की सबसे बड़ी फिल्म सिटी के चेयरमैन और मशहूर फिल्म प्रोड्यूसर का निधन, PM मोदी ने जताया दुख, इंडस्ट्री में शोक की लहर

नई दिल्ली। आठ जून की तड़के सुबह एक बेहद दुखभरी खबर मिली। रामोजी ग्रुप ऑफ कंपनीज के चेयरमैन रामोजी राव का 87 साल की उम्र में निधन हो गया। उन्होंने आज सुबह हैदराबाद के अस्पताल में अंतिम सांस ली। रामोजी राव का हैदराबाद के स्टार हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था। उनकी लगातार बिगड़ रही तबियत के बाद पांच जून को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह ह्रदय संबंधी समस्याओं से जूझ रहे थे। उन्हें सांस लेने में दिक्कत थी। 

रामोजी ग्रुप के चेयरमैन और ETV नेटवर्क के प्रमुख रामोजी राव का निधन, PM मोदी ने जताया दुख

Also Read - मोदी के फिर PM चुने जाने से कांपने लगा पाकिस्तान! करने लगा शांति की बातें, जम्म-कश्मीर को लेकर भी दिया बड़ा बयान

उनके निधन से एंटरटेनमेंट और मीडिया इंडस्ट्री में शोक की लहर है। रामोजी राव पद्म विभूषण पुरस्कार विजेता थे। कुछ साल पहले ही वह कोलन कैंसर से उबरे थे। रामोजी ने तेलुगु फिल्म इंडस्ट्री, मीडिया और पत्रकारिता मे अहम योगदान दिया है। रिपोर्ट्स की मानें तो अंतिम दर्शन के लिए रामोजी राव के पार्थिव शरीर को रामोजी फिल्म सिटी में उनके आवास पर रखा जाएगा। यहीं पर उनका परिवरा, दोस्त, करीबी और उनके चाहने वाले उनके अंतिम दर्शन कर पाएंगे।

Ramoji Rao

Also Read - कोर्ट का बड़ा फैसला, विधायक को सुनाई 7 साल की जेल की सजा, गवानी पड़ेगी विधायकी?

पीएम नरेंद्र मोदी ने राव के निधन पर दुख जताया और उन्हें भारतीय मीडिया में क्रांति लाने वाले दूरदर्शी व्यक्ति बताया। पीएम मोदी ने एक्स पर लिखा कि रामोजी राव गरू देश के विकास को लेकर बेहद भावुक थे। मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे उनके साथ बातचीत करने और उनकी बुद्धिमत्ता से लाभ उठाने के कई मौके मिले। इस कठिन समय में उनके परिवार, दोस्तों और अनगिनत प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदना। ऊं शांति। 

मशहूर फिल्म प्रोड्यूसर रामोजी राव का निधन, 87 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

रामोजी राव एक सफल उद्यमी, फिल्म निर्माता और मीडिया टायकून थे। तेलुगू मीडिया में उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए उन्हें जाना जाता रहा है। उनका पूरा नाम चेरूकुरी रामोजी राव था। उनका जन्म 16 नवंबर 1936 को एक मध्यवर्गीय परिवार में हुआ था। एक बड़े बिजनेसमैन होने के अलावा ग्लैमर वर्ल्ड में भी उनका योगदान था। उन्हें सिनेमा जगत में दिए गए योगदान के लिए 4 बार फिल्मफेयर साउथ अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। इसके अलावा साल 2000 में आई फिल्म नुव्वे कवाली के लिए नेशनल अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया। इसी के साथ उन्हें 5 नंदी अवॉर्ड से भी नवाजा जा चुका है। 

और पढ़ेंकम दिखाएँ
//

© Rashtiya Ekta! Design & Developed by CodersVision