May 20, 2024

weather

142.13333333333 °C

RashtriyaEkta - 12-05-2024

पहली बार भारत आ रहे है एलन मस्क! PM मोदी से करेंगे मुलाकात, अरबों डॉलर का होगा निवेश? हो सकता है ये बड़ा ऐलान

Elon Musk's first visit to India : इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला (Tesla) के फाउंडर एलन मस्क इस महीने के अंत में भारत आ रहे हैं. ये उनका भारत का पहला दौरा होगा. वह इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करेंगे. उन्होंने सोशल मीडिया पोस्ट कर खुद इसकी जानकारी दी. मस्क ने कहा कि भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने को लेकर आशान्वित हूं. मस्क का ये दौरा बहुत महत्वपूर्ण होने जा रहा है क्योंकि उम्मीद है कि इस दौरान वे भारत में टेस्ला के एक नई फैक्ट्री की स्थापना के लिए भारी-भरकम निवेश करने का ऐलान कर सकते हैं. 

बताया जा रहा है कि 22 अप्रैल से शुरू हो रहे हफ्ते में मस्क पीएम मोदी से मुलाकात करेंगे. इस दौरान मस्क कुछ और जरूरी घोषणाएं भी कर सकते हैं. इससे पहले खबर थी कि टेस्ला के कुछ अधिकारी भारत आ सकते हैं. भारत में टेस्ला के नए प्लांट के लिए जगह देखने के लिए ये अधिकारी भारत आने वाले थे. लेकिन अब पुष्टि हो गई है कि एलन मस्क खुद इस महीने भारत आ रहे हैं. भारत में टेस्ला के प्लांट के लिए लगभग दो अरब डॉलर के निवेश की उम्मीदें जताई जा रही है.

खबर है कि टेस्ला भारत में प्लांट तैयार करने की योजना बना रही है. ऐसे में टेस्ला भारत में कारोबार शुरू करने के लिए एक स्थानीय भागीदार की भी तलाश कर रही है. रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिकी ऑटो कंपनी यहां एक प्‍लांट के निर्माण के लिए रिलायंस के साथ संयुक्त कारोबार की संभावना तलाश रही है. प्लांट के लिए संभावित जगहों में गुजरात और महाराष्ट्र शामिल हैं. महाराष्‍ट्र सबसे पसंदीदा जगह बताई जा रही है. 

पिछले साल जून में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका की यात्रा पर गए थे. वहां एलन मस्क ने उनसे मुलाकात की थी. वहीं Tesla कंपनी की तरह से पिछले साल जुलाई में कहा गया था कि वह 24,000 डॉलर की कीमत वाली ईवी का उत्पादन करने के लिए भारत में एक कारखाना बनाने में रुचि रखती है.

एलन मस्क ने सबसे पहले साल 2019 की शुरुआत में ही भारत में इंवेस्टमेंट की दिलचस्पी दिखाई थी. हालांकि, उन्होंने हाई इंपोर्ट टैक्स को लेकर आपत्ति जताई थी. लेकिन भारत सरकार का साफ कहना है कि अगर टेस्ला भारत में मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाता है तो फिर रियायत के बारे में विचार किया जाएगा. सरकार ने टेस्ला को भारत में चीन निर्मित कारों को बेचने की मंजूरी नहीं दी है. सरकार ने एलन मस्क की कंपनी को देश में ही मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाने को कहा था, ताकि डोमेस्टिक सेल और एक्सपोर्ट के लिए प्रोडक्शन हो सके. 

और पढ़ेंकम दिखाएँ
//

© Rashtiya Ekta! Design & Developed by CodersVision